India exported $ 32.21 billion in May, trade deficit increased to $ 6.32 billion | भारत ने 32.21 अरब डॉलर का एक्सपोर्ट किया, ट्रेड डेफिसिट बढ़कर 6.32 अरब डॉलर हुआ

भारत ने मई के दौरान एक्पोर्ट बढ़ाया है। बुधवार को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक देश का एक्सपोर्ट 67.39% बढ़कर 32.21 अरब डॉलर हो गया है। क्योंकि इंजीनियरिंग, फार्मास्युटिकल्स, पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स और केमिकल सेक्टर में अच्छी ग्रोथ दर्ज की गई।

इंपोर्ट का आंकड़ा भी सुधरा
कॉमर्स मिनिस्ट्री की ओर से जारी डेटा के मुताबिक पिछले साल मई में एक्सपोर्ट का आंकड़ा 19.24 अरब डॉलर का था। 2019 के मई में 29.85 अरब डॉलर रहा था। एक्सपोर्ट के साथ-साथ इंपोर्ट का आंकड़ा भी सुधरा है। मई में देश का इंपोर्ट 68.54% बढ़कर 38.53 अरब डॉलर का रहा। यह मई 2020 में 22.86 अरब डॉलर का रहा था। मई 2019 में 46.68 अरब डॉलर था।

मई में ट्रेड डेफिसिट बढ़ा
मई में इंपोर्ट और एक्सपोर्ट डेटा को देखते हुए स्पष्ट है कि इस दौरान भारत नेट इंपोर्टर रहा। ट्रेड डेफिसिट 6.32 अरब डॉलर हो गया, जो पिछले साल मई में 3.62 अरब डॉलर था। याी ट्रेड डेफिसिट में 74.69% की बढ़त दर्ज की गई है। मई 2019 में भारत का ट्रेड डेफिसिट 16.84 अरब डॉलर का रहा था।

लॉकडाउन में हल्की रियायतों से ऑयल इंपोर्ट में बढ़ोतरी
कच्चा तेल का इंपोर्ट मई में बढ़कर 9.45 अरब डॉलर का हो गया, जो सालभर पहले 3.57 अरब डॉलर का था। मई 2019 में यह 12.59 अरब डॉलर का था। अप्रैल-मई के दौरान एक्सपोर्ट बढ़कर 62.84 अरब डॉलर का हो गया, जो पिछले साल की समान अवधि में 29.6 अरब डॉलर की थी। वहीं, 2019 में अप्रैल-मई के दौरान एक्सपोर्ट का आंकड़ा 55.88 अरब डॉलर का रहा था।

अप्रैल-मई के दौरान 84 अरब डॉलर का इंपोर्ट
अप्रैल-मई के दौरान इंपोर्ट का आंकड़ा 84.25 अरब डॉलर का रहा, जो 2020 के समान अवधि में 39.98 अरब डॉलर का रहा था। 2019 में यह 89.07 अरब डॉलर रहा था। इसी दौरान ऑयल इंपोर्ट बढ़कर 20.32 अरब डॉलर का हुआ, जो पिछले साल 8.24 अरब डॉलर का रहा था। 2019 में यह आंकड़ा 24.16 अरब डॉलर का रहा था।