MP और राजस्थान के सभी और महाराष्ट्र के 30 जिलों में पेट्रोल की कीमत 100 के पार, डीजल एक साल में 22% महंगा

  • Rajasthan Vs MP Maharashtra: Petrol Prices Above Rs 100 Per Liter In Several Districts

देश में आंशिक लॉकडाउन से स्थिति पहले जैसी नहीं रही। आर्थिक गतिविधियों की रफ्तार भी एकदम धीमी पड़ गई है। लोगों में कोरोना का डर तो है ही, लेकिन महंगाई की मार से परेशानी ज्यादा बढ़ गई है।

महंगाई बढ़ने की सबसे बड़ी वजह पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आई रिकॉर्ड बढ़त है। देश के कई क्षेत्रों में एक लीटर पेट्रोल का भाव 100 रुपए के पार हो गया है। इन दिनों मध्य प्रदेश और राजस्थान के सभी जिलों पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर के पार निकल गया है। वहीं महाराष्ट्र के 30 और आंध्र प्रदेश के 7 जिलों में भी पेट्रोल की कीमत 100 रुपए के पार पहुंच गई है।

देश के 122 जिलों में पेट्रोल 100 के पार
देश के 726 जिलों में से 122 जिलों में पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर के पार निकल गया है। देश में सबसे पहले राजस्थान के श्रीगंगानगर में पेट्रोल 100 रुपए के पार निकला था। देश की आर्थिक राजधानी दिल्ली में भी पेट्रोल आज 100 रुपए के पार निकल गया है।

राज्यों में पेट्रोल का भाव 105 रुपए प्रति लीटर
सरकारी तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (IOCL) के मुताबिक राजधानी दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल का भाव 93.68 रुपए है, लेकिन राजस्थान के श्रीगंगानगर में पेट्रोल 104.94 रुपए के रिकॉर्ड भाव पर बिक रहा है। वहीं, मध्यप्रदेश के अनूपपुर में भी पेट्रोल 104.62 रुपए पर पहुंच गया है। इन दोनों राज्यों के कई जिलों में पेट्रोल के भाव अब तक के सबसे ऊंचे भाव पर बिक रहे हैं।

देश के प्रमुख शहरों में पेट्रोल के दाम

शहर पेट्रोल (रुपए/लीटर) डीजल (रुपए/लीटर)
श्रीगंगानगर 104.94 97.79
अनूपपुर 104.62 95.76
परभणी 102.55 93.03
भोपाल 102.04 93.37
जयपुर 100.44 93.66
मुंबई 100.19 92.17
दिल्ली 93.94 84.95

पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ने का क्या असर होगा?
फ्यूल प्राइसेस बढ़ने का सीधा असर ट्रांसपोर्टेशन पर पड़ता है। प्रोडक्ट्स मैन्युफैक्चरिंग की लागत भी बढ़ती है। इसका सीधा असर आम लोगों की जेब पर पड़ता है। सब्जी, फल, अनाज सहित रोजमर्रा के काम में इस्तेमाल होने वाले अन्य सामानों की कीमतें बढ़ती हैं। इससे खपत पर बुरा असर पड़ता है और इकोनॉमी ग्रोथ को भी झटका लगता है।

दिल्ली में इस साल पेट्रोल 9.97 और डीजल 10.77 रुपए महंगा हुआ

तारीख पेट्रोल (रुपए/लीटर) डीजल (रुपए/लीटर)
1 जनवरी 83.97 74.12
1 फरवरी 86.65 76.83
1 मार्च 90.99 81.30
1 अप्रैल 90.56 80.87
29 मई 93.94 84.89

एक साल में पेट्रोल 31% महंगा, डीजल 22%
मई में अब तक पेट्रोल-डीजल की कीमतें 15 बार बढ़ीं। इससे पेट्रोल 3.54 और डीजल 4.16 रुपए महंगा हुआ है। वहीं, 2021 में अब तक का आंकड़ा देखें तो 5 महीने से भी कम में पेट्रोल 12 और डीजल 15% महंगा हुआ है। यानी 1 जनवरी को एक लीटर पेट्रोल 83.97 और डीजल 74.12 पर बिक रहा था, जो अब 93.94 और 84.89 रुपए प्रति लीटर पर है। सालभर में पेट्रोल-डीजल के भाव तेजी से बढ़े हैं। 27 मई 2020 के पेट्रोल 71.26 और डीजल 69.39 पर था, जो अब 93.94 और 84.89 रुपए प्रति लीटर पर है। यानी बीते एक साल में पेट्रोल 31 और डीजल 22% महंगा हुआ है।

कच्चे तेल की कीमतें भी फोकस में हैं
ग्लोबल मार्केट में कच्चे तेल की कीमतें फिर से बढ़कर 69 डॉलर प्रति बैरल हो गई हैं, जो 23 मई को घटकर 65 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया था, लेकिन यह आने वाले दिनों में 70 डॉलर प्रति बैरल के आसपास रहने की उम्मीद है, क्योंकि ईरान पर अमेरिकी पाबंदी कमजोर होने से ऑयल मार्केट में उसकी वापसी की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *